LOADING

Type to search

Share

कोरोना महामारी के इस बेहद मुश्किल दौर में भी आम आदमी की हिफाजत के लिए हमारे पुलिसकर्मी फ्रंटलाइन वारियर्स के तौर पर दिन-रात जी-जान से जुटे हुए हैं। सदी की सबसे बड़ी त्रासदी में भी वो अपनी ड्यूटी पर तैनात हैं और सड़क-चौराहों से लेकर श्मशान औऱ अस्पताल तक कानून व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे हैं। फर्ज की जिम्मेदारी निभाते-निभाते कई वर्दीधारियों की सांसें तक थम गईं। वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच अपने घर-परिवार से दूर रहकर लगातार 18-18 घंटे की ड्यूटी का असर उनकी मानसिक सेहत पर भी पड़ रहा है। ऐसे में उज्जैन सीएसपी ने पुलिसकर्मियों के मन से तनाव निकालने और मनोबल बढ़ाने के लिए एक सराहनीय और कारगर पहल की है।

सुर-ताल से साथियों के ‘तनाव का इलाज’ कर रहीं उज्जैन CSP ujjain csp pallavi shukla

कहते हैं हंसी और खुशी हर मर्ज का इलाज है। मेडिकल साइंस भी मुस्कुराहट को कई मर्ज की मेडिसीन मान चुका है। आपकी सिर्फ एक मुस्कुराहट कई गमों को काफूर कर देती है लेकिन कोरोना के इस बेरहम दौर ने हर चेहरे पर डर और चिंता की बड़ी-बड़ी लकीरें खींच दी है। दौड़ती-भागती जिंदगी को पूरी तरह बेपटरी कर दिया है। एक तरफ आम आदमी अपनी जान बचाने के लिए घर में कैद रहने को मजूबर है, तो दूसरी तरफ आम आदमी की सुरक्षा और लॉकडाउन/कर्फ्यू के दौरान शहर की व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिसकर्मियों को रातों  की नींद तक नसीब नहीं है। बेहद कठिन दौर में काम का बेतहाशा बोझ अब पुलिसकर्मियों में बढ़ते तनाव के रूप में सामने आ रहा है। लिहाजा अपने सहकर्मियों की परेशानी को समझते हुए उज्जैन सीएसपी पल्लवी शुक्ला ने उसे दूर करने के लिए एक अनूठा तरीका अख्तियार किया है। यकीन मानिए सीएसपी पल्लवी शुक्ला की ये पहल उज्जैन की जनता के तरह ही आपको भी उनका कायल बना देगी। ujjain csp pallavi shukla

काम के बढ़ते दबाव के बीच पुलिसकर्मी तनाव महसूस न करें इसके लिए CSP साहिबा ने भरे चौराहे में संगीत की महफिल जमाकर अपने सहकर्मियों को मोटिवेट किया। इतना हीं सीएसपी पल्लवी शुक्ला ने खुद अपने हाथों में माइक थाम कर गाने की शुरूआत की। देखते ही देखते पूरा माहौल खुशनुमा हो गया और मौके पर मौजूद बाकी पुलिसकर्मियों ने भी एक से बढ़कर एक रोमांटिक गीत गुन-गुनाकर समा बांध दिया।

दरअसल कोरोना महामारी से जूझ रहे मरीजों के लिए डॉक्टरों ने म्यूजिक थैरेपी का इस्तेमाल भी कई जगह ट्रीटमेंट के रूप में किया है। सोशल मीडिया पर जिसके कई वीडियो भी जमकर वायरल हुए हैं। जहां डॉक्टरों ने पैनिक होते माहौल के मद्देनजर अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती मरीजों को मोटिवेट करने के लिए संगीत का सहारा लिया है।

सीएसपी पल्लवी शुक्ला ने फिल्म मेरी जंग का ‘जिंदगी हर कदम एक नई जंग है’ गाना गाकर अपने अधीनस्थ पुलिसकर्मियों के टेंशन को दूर करने के साथ ही कोरोना की इस मुश्किल जंग से जीतने के लिए प्रोत्साहित भी किया।

पिछले साल कोरोना की पहली लहर के दौरान भी सीएसपी पल्लवी शुक्ला ने अपने साथियों औऱ अधीनस्थों का हौंसला अफजाई करने के लिए चौराहें में सफेद कोरोना किट पहनकर डांस किया था। जिसका वीडियो वायरल होने के बाद सभी ने सीएसपी के इस कदम की जमकर तारीफ की थी।

सोशल पुलिसिंग की मिसालujjain csp pallavi shukla

अपनी दमदार कार्यशैली और संवेदनाओं के दम पर अपनी अलग पहचान बनाने वाली सीएसपी पल्लवी शुक्ला ने मुश्किल वक्त दौरान गरीब,असहाय और वंचित वर्ग के लोगों की मदद कर साबित किया है कि खाकी वर्दी के पीछे भी एक इंसान बसता है।ujjain csp pallavi shuklaकोरोना के इस संकटकाल में सीएसपी पल्लवी शुक्ला ने कई दफा इंसानियत का परिचय देते हुए खाकी का मान बढ़ाया। पुलिस की नौकरी की व्यस्तताओं के बावजूद वो कभी गरीब परिवार को खाने के पैकेट और फल-फ्रूट्स बांटते नजर आईं, कभी फुटपाथ पर गुजर-बसर करने वालों को राशन देते तो कभी गरीब बस्ती में रहने वाले परिवारों को कोरोना से बचने के लिए मास्क वितरण करते दिखाई दीं।ujjain csp pallavi shuklaमध्यप्रदेश के देवास से ताल्लुक रखने वाली और एक साधारण परिवार में जन्मी पल्लवी शुक्ला नारी-शक्ति की एक मिसाल बनकर उभरी हैं। वो आज प्रदेश की महिलाओं के लिए एक रोल मॉडल हैं। उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए उन्हें अब तक कई प्रतिष्ठित सम्मानों से नवाजा जा चुका है।

पॉजिटिव इंडिया की कोशिश हमेशा आपको हिंदुस्तान की उन गुमनाम हस्तियों से मिलाने की रही है जिन्होंने अपने फितूर से बदलाव को एक नई दिशा दी हो और समाज के सामने संभावनाओं की नई राह खोली हो।

 हर रोज आपके आसपास सोशल मीडिया पर नकारात्मक खबरें और उत्तेजना फैलाने वाली प्रतिक्रियाओं के बीच हम आप तक समाज के ऐसे ही असल नायक/नायिकाओं की Positive, Inspiring और दिलचस्प कहानियां पहुंचाएंगे, जो बेफिजूल के शोर-शराबे के बीच आपको थोड़ा सुकून और जिंदगी में आगे बढ़ने का जज्बा दे सके।

Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *